Input Device क्या है? हिंदी में जानकारी

Input Device क्या है?

input-device-in-hindi

कंप्यूटर आपके डेटा की  processing कर सके, इसके लिए आपको कुछ उपकरणों की जरूरत होती है जो आपके डाटा को कंप्यूटर में इनपुट करेंगे। उन उपकरणों को input device कहां जाता है।  इनपुट डिवाइस हार्डवेयर का एक हिस्सा है। यह कंप्यूटर को कच्चे डेटा इनपुट करने की अनुमति देता है।

Types Of Input Device (Examples Of Input Device Hindi)

1. Keyboard

Keyword एक इनपुट डिवाइस है जो यूजर्स को कंप्यूटर में text इनपुट करने की अनुमति देता है। यह एक कंप्यूटर से communicate करने का सबसे आसान तरीका है। 

Users आसानी से कंप्यूटर में text इनपुट करके कम्युनिकेट कर सकते हैं। Keyboard में अलग अलग तरह की बटन होती हैं। जैसे कि  numbers, symbols, functions keys, letters इत्यादि। कीबोर्ड में keys को कुछ इस तरह लगाया गया है जिससे जल्दी टाइप किया जा सके है। 

कीबोर्ड को keys के अनुसार विभाजित किया जाए तो यह दो प्रकार के होते हैं :-

* 84 keys Keyboard
* 101/l02 keys Keyboard

लेकिन अब विंडोज और इंटरनेट के लिए 104 keys और 108 keys के कीबोर्ड भी आ गए है।

कीबोर्ड कि keys को 5 प्रकार से विभाजित किया गया:-

> Typing Keys :-

Typing keys में alphabets और digital keys शामिल होती है। साथ ही punctuation keys और symbols keys भी इसी का पार्ट होती है। इसे alphanumeric keys भी कहा जाता है।

> Function Keys :-

Function Keys का अपना एक यूनिक मतलब होता है। इनको कुछ जरूरी कार्यों में ही यूज किया जाता है। यह computer keyboard के टॉप में ( F1, F2, F3, से लेकर F12, तक) मौजूद होती हैं।

> Control Keys :-

Control Keys को डेस्कटॉप स्क्रीन पर मूव करने के लिए या टेस्ट को एडिट करना, इत्यादि के लिए इस्तेमाल करते हैं। इनमे  Page Up, Page Down, Delete, arrow keys, Home, End, insert, control, escape(Esc), और  alternate (Alt) keys शामिल है।

सरल भाषा में इन Keys को हम स्क्रीन और cursor को कंट्रोल करने के लिए उपयोग करते हैं।

> Numeric Keypad :-

Numeric Keypad  हम नंबर को लिखने में करते है। यह keys कीबोर्ड के राइट साइड में मौजूद होते हैं। इनमे 17 keys का सेट होता हैं।

> Sepecial Purpose Keys :-

इसमें print keys, num lock, shift, enter, caps lock, tab,और  space bar keys शामिल है।

2. Mouse

माउस एक बेहतरीन इनपुट पॉइंटिंग डिवाइस है। इसका उपयोग स्क्रीन के कर्सर को नियंत्रण करना होता है, लेकिन इसके द्वारा हम कीबोर्ड की तरह text को नहीं लिख सकते है।  इसका आकर एक चूहे के आकार की तरह होता है। एक गोल गेंद के साथ ही वॉयर इसकी पूछ कहलाती है। माउस का बटन दबाने से सीपीयू को संबंधित सिग्नल जाता है।

आम तौर पर, माउस में दो तरह के बटन होते हैं जिसको बाएं और दाएं बटन कहा जाता है साथ ही इसमें इन दोनों बटनों के बीच में एक पहिया मौजूद होता है। माउस को हैंडहेल्ड डिवाइस भी कहा जाता है।

3. Track ball

ट्रैक बॉल एक इनपुट डिवाइस होता है। जिसका उपयोग ज्यादातर माउस की जगह किया जाता है। लैपटॉप कंप्यूटर में आपको ट्रैकबॉल ज्यादातर देखने को मिलता है। इसका आकार ऊपर से नीचे की तरह होता है जिसमें एक बॉल टॉपर पर लोकेट होती है। 

ट्रैकबॉल का माउस की जगह उपयोग करने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि इसको माउस कि तुलना में कम जगह आवश्यकता होती है।
इसका उपयोग आप अपनी फिंगर से बॉल को रोल करके कर सकते हैं।

4. Joystick

Joystick और दूसरे गेम कंट्रोलर को कंप्यूटर में प्वाइंटिंग डिवाइस की तरह उपयोग किया जा सकता है यह माउस की तरह दिखता है। लेकिन माउस में कर्सर तब तक मूव करता रहेगा जब तक माउस मूव करेगा। जॉय स्टिक में ऐसा नहीं है आप जिस डायरेक्शन उसे सेट कर देंगे कर्सर ऑटोमैटिक उस डायरेक्शन में मूव करता रहेगा। कर्सर को रोकने के लिए आपको  joystick को upright position में करना होगा। यही माउस की जगह  joystick यूज करने का फायदा होता है।  

joystick-input-device
Joystick

Joystick के funtions माउस की तरह similar होते हैं लेकिन ज्यादातर इसका का यूज़ गेम खेलने के लिए ही होता है, ना कि कंप्यूटर स्क्रीन पर cursor को कंट्रोल करने में किया जाता है।

Disadvantages Of Joystick

> आमतौर पर सभी माउस का उपयोग करते हैं, तो ऐसे में जॉयस्टिक को नियंत्रित करना उनके लिए अधिक कठिन है।
> जॉयस्टिक विशेष रूप से कमजोर होते हैं। इसलिए यदि उन पर बहुत अधिक बल का उपयोग किया जाए तो आसानी से टूट सकते हैं।

5. Touch Pad

ज्यादातर लैपटॉप कंप्यूटर्स में अब आपको टच पैड प्वाइंटिंग डिवाइस देखने को मिलता है। आप डेस्कटॉप स्क्रीन cursor को अपनी उंगली के माध्यम स्लाइड करके कंट्रोल कर सकते हैं। इसमें आपको माउस की तरह दायें और बाएँ दो बटन भी दी जाती है। 

touch-pad-input-device
Touch Pad

सबसे बड़ा advantage यह की किसी icon पर क्लिक करने के लिए दो बार फिंगर से छूना पड़ता है। दूसरा माउस के ऊपर फायदे यह होता है कि इसे कम जगह की जरूरत पड़ती है।

Advantages Of Touch Pad

> Keyboard pad से यह पॉइंटिंग डिवाइस अटैच रहता है।
> कर्सर को नियंत्रण करने के लिए फिंगर को कम स्क्रॉल करने की आवश्यकता होती है।

Disadvantages Of Touch Pad

> Touch Pad पर कर्सर को नियंत्रण करने के लिए प्रैक्टिस और स्किल की जरूरत होती है।
> Gloves को साफ जगह पर पहनने कि जरूरत नहीं होती है लेकिन इंडस्ट्रियल जगह पर ग्लव्स पहनने के जरूरत होती हैं।
> नम या पसीने से भीगी उंगलियां, सेंसर से टच होने में बाधित कर सकती हैं।

6. Scanner

Scanner भी एक input device है, जिसका कार्य फोटोकॉपी के मशीन की तरह होता है। इसका उपयोग posters, photographic prints, magazine pages, और अन्य कागज पर उपलब्ध जानकारी को edit और display करने के लिए किया जाता है। 

Scanner आसानी से किसी भी पेज को black और white या color में स्कैन करके कंप्यूटर पर दिखा सकता है। High Resolution Scanner का उपयोग हाई रेजिलेशन प्रिंटिंग के लिए किया जाता है, और lower Resolution Scanner का यूज़ इमेज को कैप्चर करने के लिए किया जाता है।

Scanner तीन तरह के होते है:-

  •  Specialist scanners
  •  Handheld scanners
  •  Flatbed scanners

Advantages Of Scanner

> इसका उपयोग करना बहुत आसान है।
> इसमें कम लागत आती है।
> स्कैनर के लिए कोई भी complex setup कि जरूरत नहीं पड़ती है। इसको आसानी से सेट किया जा सकता है।

7. Graphics Tablet

Graphics Tablet  को Digitizer और Tablet ,के नाम से भी जाना जाता है। यह एक input device होता है। इसमें एक electronic writing area होता है, और साथ ही ग्राफिकल इमेजेस को motion के साथ ड्रॉ करने के लिए एक स्पेशल पेन भी होता है।

graphics-tablet-input-device
Graphics Tablet

Digitizer, ग्राफिक और पिक्टोरियल डाटा को आसानी से binary inputs में बदल सकता है। आर्टिस्ट इसे ड्राइंग टूल की तरह भी यूज कर सकते हैं।

8. Microphone

Microphone एक इनपुट डिवाइस है जो कि computer से connect करके साउंड को रिकॉर्ड करता है। इसका उपयोग और भी कार्यों के लिए कर सकते हैं जैसे कि :-

microphone-input-device
Microphone

1. मल्टीमीडिया प्रेजेंटेशन में ध्वनि को जोड़ना।
2. संगीत को आपस में मिक्स करना और संगीत की ध्वनि को रिकॉर्ड करने की अनुमति देता है।
3. वॉयस रिकॉजिनेशन का विकल्प देता है।
4. ऑनलाइन चैटिंग की भी सुविधा देता है।
5. इसका कंप्यूटर गेम के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।
6. VoIP (वॉयस ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल) के लिए अनुमति देता है।

9. Light Pen

लाइट पेन एक तरह के पेन के आकार में input device होता है। आमतौर पर इसका उपयोग कंप्यूटर स्क्रीन में pictures या line ड्रॉ करने के लिए किया जाता है।

लाइट पेन दो तरह के होते हैं एक चित्र बनाने के लिए और दूसरा Bar Codes की जानकारियों को रीड करता है। लाइट पेन का इस्तेमाल वल्यूएटर के रूप में, स्ट्रोक इनपुट डिवाइस के तौर पर, आदि के लिए कर सकते है।

Advantages Of Light Pen

> Light pen को आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है।
> इसके पास एक अच्छी पोटेंशियल accuracy
है अगर माउस या टच स्क्रीन से compare करें ।
> इसके उपयोग के लिए एक्स्ट्रा स्पेस की जरूरत नहीं होती है।
> विकलांग लोगों के उपयोग के लिए इसको आसानी से modified किया गया है।

Disadvantages Of Light Pen

> Light pen बहुत आसानी से खराब हो जाते हैं।
> इसको LCD screen पर नहीं चलाया जा सकता है।
> यह कुछ ही कंप्यूटर के स्क्रीन पर उपयोग किया जा सकता है।
> इसके पास high resolution capability नहीं होती है।
> Light Pen को ज्यादा यूज करने से आपके हाथ थक सकते हैं।
> Bar Code Reader की तरह light pen को यूज किया जाए तो error होने के चांस ज्यादा रहते हैं।

10. MIDI Device

MIDI Device का full form Musical Instrument Digital Interface होता है। इसका उपयोग DAW सॉफ्टवेयर से कम्युनिकेट करने के लिए किया जाता है। यह MIDI कीबोर्ड, MIDI लॉन्चपैड, MIDI सतहों आदि होते है। यह डिवाइस इनपुट और आउटपुट दोनों को कंटेंट करता है।

11. MICR

MICR का full form Magnetic Ink Character Recognition होता है। यह एक इनपुट डिवाइस है। आमतौर पर MICR का इस्तेमाल बैंकों में होता है। यह चेक में विशेष प्रकार की स्याही से लिखे characters को रीड करता है। यह 2400 दस्तावेजों को 1 मिनट में पढ़ लेता है। इस पढ़ने की प्रक्रिया को मैग्नेटिक इंक कैरेक्टर रिकॉग्निशन (MICR) कहा जाता है। इसे हम कम शब्दों में MICR Code बोलते हैं। MICR का मुख्य लाभ इसकी accuracy और speed है।

12. Barcode Reader

Barcode Reader एक इनपुट डिवाइस है जो अपनी laser beams कि मदद से special codes को पढ़ता है। यह कोड bars के आकार में विकसित होते हैं। आमतौर पर Bar Codes का उपयोग रिटेल ट्रेड और सुपर मार्केट में अपनी प्रोडक्ट के labelling के लिए करते है। 

barcode-reader-input-device
Barcode Reader

अगर फिर भी आपको Bar Code समझ में नहीं आ रहा है। तो सिंपल भाषा में जब भी आप किसी प्रोडक्ट (जैसे कि books) को खरीदते हैं तो ब्लैक कलर की कुछ लाइनें आपको उसमें जरूर देखने को मिलती हैं उसी को Bar Codes बोला जाता हैं।

13. OMR

OMR का full form Optical Mark Recognition होता है। यह भी एक इनपुट डिवाइस कहलाती है। यह एक विशेष प्रकार का ऑप्टिकल स्कैनर है जिसका उपयोग marks, codes को पढ़कर कंप्यूटर रीडेबल फॉर्म में बदलना होता है। आमतौर पर इसका उपयोग सबसे ज्यादा marks या symbols को पढ़ने के लिए किया जाता है।

उदाहरण के लिए जब आप किसी कॉम्पिटेटिव एक्जाम में MCQ प्रश्न करते है तो वहां पर आपको OMR sheet दी जाती है। इस OMR sheet को रीड करने के लिए OMR Device का प्रयोग किया जाता है।

14. OCR

OCR का full form Optical Character Recognition होता है। यह एक इनपुट डिवाइस होता है। इसे प्रिंटेड डॉक्यूमेंट को पढ़ने के लिए बनाया गया है। OCR typewritten, computer written या handwritten, को स्कैन करने के बाद उन्हें एक मशीन रीडेबल कोड में बदलता है। इसके साथ यह पढ़े गए कोड को सिस्टम मेमोरी में स्टोर करता है।

15. Web Camera

Web Camera एक input device है। यह आकार में छोटा और डिजिटल वीडियो कैमरा होता है। जिसे कंप्यूटर से कनेक्ट किया जाता है। इसको webcam भी कहा जाता है। आमतौर पर इसका उपयोग security और video conferencing के लिए किया जाता है। 

webcam-input-device
Webcam

कुछ वेबकैम हर 30 सेकंड के बाद एक फोटो कैप्चर करते है तो कुछ webcam हर एक सेकंड की फोटो को कैप्चर करते रहते है। इन कैमरों के साथ उनका खुद का सॉफ्टवेयर आता है। जिसे आपको कंप्यूटर में इंस्टॉल करना पड़ता है।

Advantages Of Webcam

> दूर खड़े लोगों से आसानी से बात की जा सकती है।
> वीडियो के साथ ऑडियो का भी उपयोग किया जा सकता है।
> वेबकैम को कैमरे की तरह उपयोग किया जा सकता है।
> आसानी से वीडियो और ऑडियो को रिकॉर्ड किया जा सकता है।
> सिक्योरिटी के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

Disadvantages Of Webcam

> Hackers वेबकैम को यूज कर सकते है, भले इसकी खबर मालिक को ना हो।
> इनका इस्तेमाल गलत कार्य के लिए किया जा सकता है।

16. Digital Camera

Digital Camera एक input device होता है। जिसका उपयोग mostly फोटोग्राफी के लिए किया जाता है। कई मौजूदा मॉडल में अब ध्वनि या वीडियो को भी रिकॉर्ड कर सकते हैं। इसमें स्टोर डिजिटल इमेजेस को आप तुरंत कंप्यूटर पर अपलोड कर सकते है या बाद में कंप्यूटर अपलोड कर सकते हैं। इसमें इमेजेस को स्टोर करने की capacity होती है। Digital Camera में लेंस, एपर्चर, और शटर होता है। लेंस का उपयोग फोकस करने के लिए किया जाता है। एपर्चर का उपयोग कैमरा में लाइट की एंट्री (कम या जायदा) के लिए लगा होता है। शटर का प्रयोग लाइट के एंटर करने की ड्यूरेशन को कंट्रोल करने के लिए किया जाता है।

आपने क्या सीखा

उम्मीद करता हूं कि आपको input device क्या है और इनपुट डिवाइस कितने प्रकार के होते हैं। अच्छे से समझ आ गया होगा। अगर आपके मन में किसी तरह का इस पोस्ट से रिलेटेड प्रश्न आ रहा हो तो कमेंट बॉक्स में अवश्य पूछे। आपको यह पोस्ट पढ़ने में कैसा लगा मुझे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Post a Comment

Previous Post Next Post