Computer Kya Hai? हिंदी में जाने

Computer kya hai? दोस्तो आज कंप्यूटर हमारे जिदंगी का सबसे अच्छा गैजेट्स बन गया है। इलेक्ट्रिसिटी के बिल का भुगतान करना हो या फिर ऐरोप्लेन और रेलवे की टिकट बुक करनी हो या बैंक से पैसे निकालना या डिपॉजिट करना हो आज कंप्यूटर का यूज लगभग सभी जगह होने लगा है। आज यूनिवर्सिटी, स्कूल, बॉलीबुड इंडस्ट्रीज, ऑर्गनाइजेशन आदि में भी कंप्यूटर का उपयोग होने लगा है।

Computer-Kya-Hai

आज कंप्यूटर की परिभाषा किसी भी कंप्यूटर से जुड़े competative  exams के लिए बहुत जरूरी है। इसलिए आपको इस पोस्ट में computer kya hai के बारे में विस्तार से बताया जाएगा। साथ ही कुछ और भी जरूरी बातें है जो आज इस पोस्ट में बताया जाएगा। चलिए तो फिर बिना समय गंवाए कंप्यूटर के बारे में जानते हैं।

कंप्यूटर क्या है? - Computer Kya Hai Hindi me

कंप्यूटर का फुल फॉर्म "Commonly Operated Machine Particularly Used in Technical and Educational Research" होता है।

यह एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस / मशीन / सिस्टम / गैजेट्स है। जो डाटा को programming language के माध्यम से इनपुट करता है, और उसे प्रोसेस करता है, और डिस्प्ले या प्रिंट के माध्यम से output देता है। इसलिए इस प्रोसेस को IPO Cycle भी कहा जा सकता है। कंप्यूटर  mathematical और logical operations को परफॉर्म करने के बाद आउटपुट देता है और future के जरूरत के लिए भी आउटपुट को स्टोर कर सकता है।  यह numerical calculation के साथ non numerical calculation को भी process कर सकता है।

आज मॉडर्न कंप्यूटर का उपयोग दस्तावेज़ लिखने, वीडियो या फोटो editing करने, एप्लिकेशन बनाने, स्पेलिंग चेक, प्रिंट कॉपीज, वीडियो गेम खेलने, आदि से लेकर कई बढ़े उद्देश्यों के लिए होने लगा है।

ऐसा कहा जाता है 1837 में चार्ल्स बैबेज द्वारा आविष्कार किया गया  कंप्यूटर का नाम एनालिटिकल इंजन था। जिसको read only memory के रूप में इस्तेमाल किया गया था। पहले कंप्यूटर को चार्ल्स बैबेज के द्वारा आविष्कार किए जाने के कारण इनको आज लोग कंप्यूटर के पिता के रूप में भी बुलाते है।

कंप्यूटर के basics components क्या है?

CPU - CPU का फुल फॉर्म Central Processing Units होता है। यह कंप्यूटर प्रोग्राम के द्वारा प्राप्त instructions को प्रोसेस करता है। इसे कंप्यूटर का heart भी कहा जाता है

Primary Memory- यह मेमोरी programs और data को temporary स्टोर करती है। जैसे कि Ram

Secondary Memory- Future के लिए programs और data को permanent store करने के लिए यूज किया जाता है। जैसे कि - CD, DVD, Pen Drive आदि।

Operating System (OS) - यह  प्रोग्राम्स का सेट होता है जो कंप्यूटर रिसोर्स जैसे कि software एंड hardware को मैनेज प्रोसेस करता है। 

Input Device- इनपुट डिवाइस को instructions और डाटा को एंटर करने के लिए किया जाता है। जैसे कि - Mouse, Keyword, Web Camera आदि।

Output Device- आउटपुट डिवाइस किसी भी इनपुट डाटा का रिजल्ट देखने के लिए किया जाता है। जैसे कि Speaker, Desktop,VDU आदि।

Motherboard- यह कंप्यूटर के सभी parts या components को आपस में जोड़ कर रखता है।

 

कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं?

दोस्तो वैसे तो कंप्यूटर को किसी भी आधार पर विभाजन कर सकते है लिकिन आज हम आपको साइज के आधार पर कंप्यूटर कि प्रकार बताएंगे। बता दें कि, आकार के अनुसार computer पाच तरह के होते हैं।

1) माइक्रो कंप्यूटर

2) मिनी कंप्यूटर

3) मेनफ़्रेम कंप्यूटर

4) सुपर कंप्यूटर

5) वर्कस्टेशन

Micro Computer क्या है?

Micro Computer को सूचना को खोजने के लिए, एमएस ऑफिस, इंटरनेट, सोशल मीडिया, ब्राउज़िंग, आदि की उपयोग के लिए  बनाया जाता है। जैसे कि  डेस्कटॉप कंप्यूटर, लैपटॉप, टैबलेट पीसी, स्मार्टफोन, पॉकेट कैलकुलेटर आदि शामिल हैं, सभी को माइक्रो कंप्यूटर कहा जा सकता है। 

Mini Computer क्या है?

Mini Computer के पास मीडियम पॉवर होती है। माइक्रो कंप्यूटर से जायदा और Main Frame Computer से कम पॉवर होती है। इसका उपयोग Individual Department, small firms, small businesses आदि के द्वारा किया जाता है। आज इस कंप्यूटर का प्रयोग बहुत कम होने लगा है Mini Computer को Midrange Computer भी कहा जाता है। जैसे कि - किसी भी स्कूल या कॉलेज में एडमिशन के लिए Mini Computer का उपयोग किया जाता है।

 

Main Frame Computer क्या है?

Main Frame Computer को big iron भी कहा जाता है। यह एक big centeralized machine है। जिसे बड़ी फर्म और सरकारी संगठन अपने बिजनेस को चलाने के लिए उपयोग करती है। Main Frame Computer के पास स्टोरेज और मेमोरी कि capacity बहुत अधिक होती हैं। साथ ही कई उच्च ग्रेड प्रोसेसर, भी होता है। इसके अलावा कुछ और भी ऐसी चीजे होती है जो माइक्रो और मिनी कंप्यूटर में नहीं है। 

Big Iron Computer का उपयोग scientific research, large scale organization, consumers satisfaction,आदि के लिए किया जाता है। आज जैसे Walmart, ICICI banks, HDFC banks, Coca Cola, RBI, DHL, FORD, Tesco, Vodafone, AIG, Tata, Travel port, UPS आदि, बड़ी कंपनियां और संस्थाएं इस कंप्यूटर का प्रयोग करती हैं।

Super Computer क्या है?

Super Computer के पास huge storage capacity होने के कारण आसानी से बड़ी फाइलों को और बहुत से डाटा को स्टोर कर सकता है। यह सभी कंप्यूटर्स से सबसे तेज और महंगा है। तेज़ गति के होने के कारण millions instructions को एक सेकंड में पूरा कर लेता है। इस कंप्यूटर का उपयोग पेट्रोलियम इंजीनियरिंग, अंतरिक्ष अनुसंधान, मौसम पूर्वानुमान, इलेक्ट्रॉनिक्स, चिकित्सा, आदि के लिए किया जाता है।

Work Stations क्या है?

Work Stations कंप्यूटर  के पास माइक्रो कंप्यूटर से भी अच्छा high quality monitor  के साथ एक मजबूत microprocessor है। अगर स्पीड और स्टोरेज कि बात करे तो यह Personal computer और Mini computer के मध्य में आता है। ज्यदातर इस तरह के कंप्यूटर का उपयोग specialized applications के लिए किया जाता है। जैसे कि- इंजीनियरिंग डिजाइन, सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट आदि।

निष्कर्स

अब आप जान गए होंगे कि Computer Kya Hai कंप्यूटर के बेसिक कंपोनेंट्स क्या है और साथ ही कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं। उम्मीद करता हूं कि आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई होगी। अगर आपके मन में फिर भी किसी तरह का प्रश्न आ रहा हो तो कमेंट बॉक्स में जरूर पूछिए और इस पोस्ट को शेयर करना ना भूले।

Post a Comment

Previous Post Next Post