MSP Full Form क्या है - एमएसपी क्या है?

MSP का Full Form क्या होता है? MSP क्या है और कैसे कैलकुलेट किया जाता हैं?  

msp-full-form-kya-hai

दोस्तों अगर आप भी MSP Full Form के साथ MSP क्या है? के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं तो इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ें। इसमें आपको MSP के बारे में कम शब्दों में बारीकी से समझाया गया है। 

MSP Full Form क्या है?

MSP full form Minimum Support Price होता है अगर हिंदी भाषा में बात करें तो msp का मतलब न्यूनतम समर्थन मूल्य होता है। यह एक तरह का गारंटीड मूल्य होता है जो किसानों की फसल के कीमत कम होने पर भी उनको नुकसान होने से बचाता है। 

एग्रीकल्चरल प्रोडक्ट्स का उतार चढ़ाव बाजारों में हर एक दिन देखने को मिलता रहता है। कभी agriculture products के दाम हाई हो जाते तो कभी इतने कम हो जाते हैं जिससे किसानों की आय पर प्रभाव पड़ने लगता है। किसानों की आय पर किसी तरह के नुकसान का प्रभाव ना पड़े इसलिए सरकार द्वारा किसानों की फसलों पर पहले से ही मिनिमम सपोर्ट प्राइस यानी न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित कर दिया जाता है।

अगर सीधी बात करें तो एमएसपी किसानों के लिए एक लाभ होने की सबसे लोएस्ट गारंटीड लाइन होती है। अगर बाजारों में फसलों के दाम बहुत ज्यादा कम हो जाते हैं तो सरकार किसानों की फसलों को एमएसपी में तय दाम पर फसल खरीद लेती है ।

MSP से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें:-

1. न्यूनतम समर्थन मूल्य केंद्र सरकार या राज्य सरकार के द्वारा प्रदान की जाती है।

2. एमएसपी केवल देश के किसानों को ही प्रदान की जाती है।

3. Minimum Support Price का उद्देश किसानों की निर्धारित दाम पर फसलें खरीदना होता है जिससे उनके आय में कोई भी उतार-चढ़ाव ना आए।

4. MSP 1966 -67 में आरंभ की गई थी।

5. न्यूनतम समर्थन मूल्य को कृषि लागत एवं मूल्य आयोग के द्वारा तय की जाती है।

MSP Calculate कैसे की जाती है?

MSP को कैलकुलेट करने के तीन तरह के मेथड होते हैं:-

A2: यह किसानों द्वारा अपने जेब से खर्च किया जाने वाला खर्च होता हैं, जिनमें मशीनरी, ईंधन, सिंचाई आदि के लिए ऋण और भूमि को किराए पर देने की लागत शामिल है।

 A2 + FL: यह फसल कटाई के लिए अवैतनिक श्रम का अनुमानित मूल्य है जैसे परिवार के सदस्यों और अन्य लोगों के योगदान। यह पेड-आउट लागत के अतिरिक्त है।

 C2: कॉम्प्रिहेंसिव कॉस्ट (C2) उत्पादन की वास्तविक लागत है। क्योंकि यह A2 + FL दर के साथ, किसानों के स्वामित्व वाली भूमि और मशीनरी पर लगने वाले किराए और ब्याज शामिल है।

समिति के अनुसार, MSP को कैल्क्युलेट करने के लिए एक आइडियल फॉर्मूला है:-

 MSP = C2 + C2 का 50%

ये भी पढ़े:-

MSP किन फसलों पर मिलती है?

देश में कुल 22 ऐसी फसलें है जिसे 3 वर्षों से सरकार द्वारा मिनिमम सपोर्ट प्राइस प्रदान की जा रही है इसलिए तो चलिए जानते हैं कौन-कौन सी फसलों पर सरकार किसानों को एमएसपी प्रदान करती हैं।

1. पहले दो फसलें व्यवसायिक फसल जैसे कि रिज जूठ और खोपरा में एमएसपी की घोषणा की जा रही है।

2. अब 6 फसलें रबी की है जैसे कि गेहूं, जौ, चना, रपेसीड, सरसों, कुसुम, मसूर।

3. अब बची 14 फसलें खरीफ से जुड़ी हुई है जैसे कि मक्का, अरहर, मूंग, धान, ज्वार, बाजरा, सूरजमुखी, शीशम, निगरसिड, कपास, मूंगफली, सोयाबीन, रागी।

निष्कर्ष

आज हमने यह जाना की Msp क्या है? Msp का Full Form क्या होता है? एमएसपी किन फसलों पर दी जाती है। अगर आपको एमएसपी से जुड़े किसी भी तरह का प्रश्न आ रहा है तो कमेंट बॉक्स में लिखकर मुझे जरूर बताएं और साथ ही हम आपको ऐसे ही आगे भी इसी तरह से जरूरी जानकारियां प्रदान करते रहेंगे ।

Post a Comment

Previous Post Next Post