Mutual Fund में निवेश कैसे करें आसान भाषा में जाने

 Mutual Fund Investment कैसे करें

क्या आप लोग जानते हैं कि Mutual Fund क्या है Mutual Fund Investment कैसे करें और म्यूचुअल फंड के फायदे और नुकसान क्या है अगर नहीं तो मैं आज आपको इसके बारे में डिटेल में बताऊंगा?

    
Mutual Fund me Investment Kaise Kre

बहुत से लोग इधर-उधर से सुनकर म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट कर देते हैं और उसका नतीजा पैसा डूब जाता है। लेकिन अगर आप Mutual Fund में सही तरीके से निवेश करें तो आपका पैसा डूबने की वजह फायदे में भी जा सकता है। यही तो सच है कि Mutual Fund में Risk बहुत है और बहुत से लोग तो risk के कारण अपना पैसा निवेश करने से भी डरते हैं.

खैर छोड़िए मैं आपको आज डिटेल में बताऊंगा कि आखिरकार म्यूचुअल फंड इन्वेस्टमेंट क्यों करना चाहिए। आपको बता दे की जरूरी नहीं कि म्युचुअल फंड में निवेश करने के लिए जब आपके जेब में लाखों रुपए हो तभी आप इन्वेस्ट कर सकते हो।

आप चाहे तो 500 रुपए महीने में भी अपना इन्वेस्टमेंट शुरू कर सकते हैं बहुत से लोगों को Share/Stock Market और Mutual fund एक ही लगता है इसलिए हम आपको बता देते हैं कि यह दोनों ही बाजार का हिशक है लेकिन यह गलत है कि शेयर मार्केट और म्यूचुअल फंड एक ही है। इन दोनों में आसमान और जमीन का अंतर है।

चलिए अब मैं पहले आपको बताता हूं कि म्यूचुअल फंड क्या है और इसमें इसमें निवेश कैसे करें।

    म्यूच्यूअल फंड क्या है - Mutual Fund In Hindi

    अगर म्यूच्यूअल फंड को आसान भाषा में कहे तो यह एक सामूहिक निवेश है इसका सीधा मतलब यह हुआ कि इसमें कई सारे लोगों के द्वारा जमा किया जाने वाला एक फंड है।
     
    इसका इस्तेमाल मार्केट में अलग-अलग जगह निवेश किया जाता है, और कोशिश की जाती है कि निवेशकों के द्वारा जमा किया गया पैसा मैं ज्यादा से ज्यादा मुनाफा हो।
    यानी कि म्यूचुअल फंड में निवेशक पैसे से पैसा कमाने की कोशिश करते हैं।

    म्यूचुअल फंड के प्रकार, Types Of Mutual fund

    दोस्तो वैसे तो मैं आपको म्यूचुअल फंड के टाइप्स के बारे में ज्यादा ब्रीफ में नहीं बताऊंगा। अगर आप लोग म्यूचुअल फंड के टाइप्स के बारे में डिटेल में जान आना चाहते हैं। तो आपको इसके बारे में बहुत सी वेबसाइट मिल जाएगी। जहां पर इसके बारे में डिटेल में जान सकते है लेकिन इतना बता देता हूं कि म्यूचुअल फंड कितने प्रकार और कौन-कौन से होते हैं :-

    1)  इक्विटी म्यूचुअल फंड (Equity Mutual Fund)
    2) डेट म्यूचुअल फंड (Debt Mutual Fund)
    3) हाइब्रिड म्यूच्यूअल फंड ( Highbrid Mutual Fund )
    4) सल्यूशन ओरिएंटल म्यूच्यूअल फंड (Salution Oriented Mutual Fund)

    म्यूच्यूअल फंड में निवेश कैसे करे( Mutual Fund Investment in Hindi)

    दोस्तों वैसे तो आपको मैचुअल फंड में इन्वेस्टमेंट करने को अनेकों एंड्राइड एप्लीकेशन मिल जाएंगे जैसे कि Groww App, MyCams, IPRU Touch App इत्यादि जिसकी मदद से आप म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं।

    दोस्तों मेरी सलाह यही है कि आप Mutual fund में Invest करने के लिए Groww App ka प्रयोग करें क्योंकि इसका इस्तेमाल आप बहुत ही आसानी से कर लेंगे।

    म्यूच्यूअल फंड के फायदे (Mutual Fund Benifit in hindi)

    1) विविधता (Diversification)
    दोस्तों आपको बता दें कि mutual fund में इन्वेस्टमेंट करने का सबसे अच्छा फायदा यह है कि यहां पर पैसे को एक जगह के अलावा छोटे-छोटे भाग करके कई जगह निवेश कर सकते हैं। जिससे आपके risk में काफी कमी होती है।

    2) सस्ता (Affordable)
    दोस्तों अगर आप अकेले बड़ी कंपनियों के शेयर खरीदेंगे तो आपके लिए महंगे पड़ेंगे लेकिन म्यूचुअल फंड में छोटे छोटे लोगों का पैसा इकट्ठा होकर बड़ा रकम बन जाता है। जिससे बड़ी कंपनियों में निवेश आसानी से किया जाता है।  म्यूच्यूअल फंड छोटे निवेशकों के लिए बड़ी कंपनियों में निवेश करने का एक अच्छा विकल्प है।

    3) टैक्स बेनिफिट (Tax Benifit)
    जब आप शेयर बाजार में निवेश करेंगे तो आपको शेयर को खरीदने या बेचने का पर टैक्स देना पड़ता है लेकिन म्यूचुअल फंड में आपको कुछ अवधि तक टैक्स पर छूट मिलती हैं।

    4) सुरक्षित निवेश (Safe Investment)
    म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट करना आपके लिए सुरक्षित होता है। क्योंकि यहां पर SEBI की देखरेख में काम किया जाता है SEBI का मतलब है Security Exchange Board Of India.

    5) म्यूचुअल फंड में निवेश करना आपके लिए Easy होता है। जहां पर आप आसानी से निवेश कर सकते हैं यानी कि शेयर मार्केट या किसी और जगह निवेश करना आपके लिए जटिल होता है।

    म्यूचुअल फंड में निवेश करने का Risk या नुकसान ( Mutual Fund Investment Loss In Hindi)

    दोस्तों आपको बता दें कि आजकल mutual fund में निवेश करना बहुत ही आसान हो गया है जिसके कारण बहुत से लोग म्यूचुअल फंड के फायदे देखकर निवेश करना शुरू कर देते हैं। अगर आप भी mutual fund के फायदे जान के निवेश करने को सोच रहे हैं तो सावधान हो जाइए क्योंकि हर सिक्के के दो पहलू होते हैं।
    मतलब यह कि अगर म्यूचुअल फंड के फायदे देखकर निवेश करना बिना नुकसान यानी कि Risk को देखे हुए तो आपका पैसा डूब भी सकता है। वैसे आपको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है मैं आपको म्यूचुअल फंड में क्या-क्या risk है बारीकी से बताऊंगा।

    1) कम मुनाफा (Less Profit)
    अगर आप यह सोच रहे हैं कि एक बार mutual fund में investment कर दे और आपको सालों तक बहुत ज्यादा मुनाफा होगा तो शायद आप गलत है। क्योंकि म्यूचुअल फंड में निवेश करने से अगर केवल मुनाफा ही हो तो हर कोई म्यूचुअल फंड में बिना डरे निवेश करना शुरू कर दे। मतलब कहने का है कि म्यूचुअल फंड में आपको हर साल एक तरह का मुनाफा देखने को नहीं मिलेगा। इस मार्केट में मुनाफे में कम ज्यादा भी होता रहता है। यहां तक कि आपको नुकसान भी हो सकता है लेकिन अगर आप सही तरीके से निवेश करें तो आपको नुकसान होने के chances कम हो जाता है।

    2) जायदा लागत (High Cost)
    दोस्तो जैसे कि पहले आपको बताया था कि मैचुअल फंड में निवेश करना सस्ता है, तो फिर यह क्या है आपको बता दें कि इसमें आपके fund को manage करने के लिए कुछ लागत लगती है। और जब भी आप म्यूचुअल फंड इन्वेस्टमेंट से बाहर निकलना चाहेंगे तो आपको एग्जिट लोड का भी चार्ज देना पड़ता है इसलिए म्यूच्यूअल फंड से बाहर निकलने के लिए एग्जिट लोड चार्जेस के बारे में बहुत अच्छे से जान ले।

    Conclusion
    दोस्तों इस पोस्ट में मैंने आपको म्यूचुअल फंड क्या होता है म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें और म्यूचुअल फंड में क्या फायदे और नुकसान के बारे में बताया है आशा करता हूं आपको मेरी पोस्ट को पढ़ने में कुछ मदद मिली होगी।

    Important Note- Mutual Funds में निवेश करने से पहले सारे दस्तावेज और फंड्स से जुडी सारी जानकारियां को ध्यान से जरूर पढ़ें किसी भी तरह के नुक्सान के आप स्वयं ज़िम्मेदार होंगे.

    टिप्पणी पोस्ट करें

    0 टिप्पणियां